सोमवार, सितंबर 23, 2013

वीर्य निकल जाता है

प्र. आदरणीय डाक्टर साहब मै कई दिनो से गैस की समस्या से परेशान हूँ ।सीने मे जलन भी होती है , बुरी तरह से कब्ज भी रहती है पेट ठीक से साफ नही होता है शरीर मे बहुत कमजोरी रहती है जब भी मलत्याग के लिये जाता हूँ वीर्य अपने आप निकल जाता है पेशाब करने जाता हूँ तो उअसके साथ भी वीर्य निकल जाता है लिंग मे तनाव भी नही आता है ,संभोग करने के समय बहुत जल्दी वीर्य निकल जाता है मै क्या करूँ क्या मै ठीक हो सकता हूँ।
                                  अजीत शर्मा आयु ३१ वर्ष बीकानेर राजस्थान से
                                             
उ. प्रिय अजीत जी आप बिल्कुल ठीक हो सकते हैं आजकल गैस ,कब्ज आम बीमारी हो गयी हैं । उसका एकमात्र कारण है हमारा उल्टा सीधा खान पान अनियमित दिनचर्या किसी भी प्रकार का व्यायाम न करना बहुत ही ज्यादा मानसिक तनाव रहना । लेकिन यदि आप दिल से ठीक होना चाहेंगे तो जरूर ठीक हो जायेंगे धीरज रखते हुये नीचे लिखी चिकित्सा कीजिये ।
१> सुबह सुबह हो सके तो खाली पेट गर्म पानी पीकर लम्बी सैर के लिये जायें इससे कब्ज ठीक होता है।
२>फिर १०-१० मिली आंवला और एलोवीरा का रस पानी मे मिलाकर पियें।
३> पौष्टिक नाश्ता करें और एक रत्ती शुध्द शिलाजीत लें।
४> १ घन्टे के बाद एक चम्मच आंवला पाउडर पानी से लें।
५ > वंश्लोचन और गिलोय सत्व १-१ ग्राम स्वर्ण भस्म के साथ लें।
५>खाने के पहले हमारा गैसनाशक चूर्ण लें एक चम्मच ।
६> खाने के बाद हमारा पित्तनाशक चूर्ण लें एक चम्मच पानी के साथ ।
७>शाम को महामकरध्वज वटी लें दूध या पानी के साथ।
८> शुध्द बादाम पाक +कौंच पाक लें पानी के साथ या दूध के साथ।
९>शाम को अश्वगंधा चूर्ण ले पानी के साथ ।
१०>१०.अश्वगंधा तेल १० ग्राम + मालकांगनी तेल १० ग्राम + श्रीगोपाल तेल १० ग्राम + लौंग का तेल २ ग्राम + निर्गुण्डी का तेल १० ग्राम इन सब को मिला कर इसमें केशर १ ग्राम + जायफल २ ग्राम + दालचीनी २ ग्राम । इन सबको कस कर घुटाई कर लें तो क्रीम की तरह बन जाएगा। इसे किसी मजबूत ढक्कन की काँच या प्लास्टिक की चौड़े मुँह की शीशी में रख लीजिये। इसे नहाने के बाद अंग सुखा कर भली प्रकार हल्के हाथ से मालिश करते हुए अंग में जाने दें। लगभग दस मिनट में यह क्रीम लिंग में अवशोषित हो जाएगी
इस प्रकार यदि दिन में समय मिले तो दो बार क्रीम लगायें,  यदि कोई भी शंका या परेशानी हो तो आप सीधे मुझसे ई-मेल (aayushved@gmail.com) या मोबाइल नंबर 09224359159 पर संपर्क करें।

मानसिक शक्तियों के अनुभूत प्रयोग ,जीवन में मन की शक्तियों का इस्तेमाल हमें जरूर करना चाहिये कैसे ? जानने के लिये देखिये मेरी लिखी दूसरी वेबसाईट बस इस लिंक पर click करें www.mindhypnotism.com


शनिवार, सितंबर 14, 2013

स्त्री को देखते ही वीर्य निकल जाता है

प्र. आदरणीय डा. साहब मेरी आयु २७ वर्ष है मै अभी अविवाहित हूँ ४ माह बाद मेरी शादी होने वाली है मेरे लिंग मे बिल्कुल तनाव नही आता । मै किसी भी स्त्री के जरा भी नजदीक आता हूँ तो मेरा वीर्य निकल जाता है शरीर मे भी बहुत कमजोरी रहती है ।मैने बहुत सारी ब्लू फिल्मे देखी हैं अभी भी मोबाईल पर देख लेता हूँ । शादी के बाद मै क्या करूंगा मुझे बडी चिन्ता हो रही है। मै अंग्रेजी दवा भी ले चुका हूँ पर कुछ फायदा नही हुआ सर जी प्लीज कोई उपाय बताईये जिससे मेरा वैवाहिक जीवन सफल हो सके मै आपका जीवन भर एहसान मानूंगा ।
                                 सुरेन्द्र सिंह आयु २७ वर्ष नयी दिल्ली से
                                              
उ. प्रिय मित्र सुरेन्द्र जी कम से कम अब तो ब्लू फिल्म देखना बन्द कीजिये क्योंकि आपके दिमाग मे चौबीस घंटॆ वही सेक्स के चित्र घूमते है अशलीलता दिमाग पर हावी हो चुकी है स्त्री को देख्ते ही दिमाग मे फिल्म चलनी शुरू हो जाती है और आपको तुरन्त रिजल्ट मिल जाता है अब ये सब बन्द करना होगा अगर ठीक होना है तो । नही तो जो आप देख रहे हैं बस देख ही पायेंगे जीवन भर कर कभी नही पायेंगे । आपकी मरजी है ।आपको मुझसे काउंसलिंग भी लेनी चाहिये नीचे लिखी दवायें धीरज पूर्वक लेते रहें आप बिल्कुल ठीक हो जायेंगे।
१.सुबह सुबह खाली पेट गर्म पानी के साथ १०मिली आंवले का रस पियें।
२.पुष्टिवर्धक नाश्ता करें फिर शुध्द शिलाजीत १ रत्ती लें पानी या दूध के साथ।
३.वंशलोचन चूर्ण +गिलोय सत्व चूर्ण १-१ ग्राम शहद के साथ लें।
४. शुध्द बादाम पाक +कौंच पाक आधा आधा चम्मच लें दूध के साथ ।
५ दोपहर खाने के बाद महामकर्ध्वज वटी १ गोली लें।
६.१ चम्मच आवला चूर्ण पानी के साथ लें ।
७.शाम को सफेद मूसली चूर्ण पानी या दूध से १ चम्मच लें ।
८.१घंटे के बाद अश्वगंधा चूर्ण पानी से लें।
९.खाने के पहले धातु पौष्टिक चूर्ण १ च्म्मच लें । खाने के बाद महामकरध्वज वटी १ गोली लें।
१०.अश्वगंधा तेल १० ग्राम + मालकांगनी तेल १० ग्राम + श्रीगोपाल तेल १० ग्राम + लौंग का तेल २ ग्राम + निर्गुण्डी का तेल १० ग्राम इन सब को मिला कर इसमें केशर १ ग्राम + जायफल २ ग्राम + दालचीनी २ ग्राम । इन सबको कस कर घुटाई कर लें तो क्रीम की तरह बन जाएगा। इसे किसी मजबूत ढक्कन की काँच या प्लास्टिक की चौड़े मुँह की शीशी में रख लीजिये। इसे नहाने के बाद अंग सुखा कर भली प्रकार हल्के हाथ से मालिश करते हुए अंग में जाने दें। लगभग दस मिनट में यह क्रीम लिंग में अवशोषित हो जाएगी। इस प्रकार यदि दिन में समय मिले तो दो बार क्रीम लगायें,  यदि कोई भी शंका या परेशानी हो तो आप सीधे मुझसे ई-मेल (aayushved@gmail.com) या मोबाइल नंबर 09224359159 पर संपर्क करें।

मानसिक शक्तियों के अनुभूत प्रयोग ,जीवन में मन की शक्तियों का इस्तेमाल हमें जरूर करना चाहिये कैसे ? जानने के लिये देखिये मेरी लिखी दूसरी वेबसाईट बस इस लिंक पर click करें

सोमवार, सितंबर 09, 2013

स्त्रियों का मुख्य रोग श्वेत प्रदर

प्र. आदरणीय डा. साहब मै २४ साल की युवा लड्की हू और मार्केटिंग की फ़ील्ड मे काम करती हूँ । पिछ्ले २ सालों से योनि मे से सफेद सफेद सा कुछ द्रव्य बहता रहता है जिसकी वजह से कमर मे भी दर्द रहता है मैने डाक्टर को भी दिखाया था कुछ एलोपैथिक दवायें भी लीं । पर कोई लाभ नही हुआ । कई महीनो मैने होमियोपैथिक दवायें भी खायीं पर मेरी प्राबलम वैसी ही है कभी कभी पेट मे भी दर्द रहता है मै बुरी तरह परेशान हूँ प्लीज कोई परमानेंट साल्यूशन बताईये। धन्यवाद।
                                                      निधि शर्मा आयु २४ साल दिल्ली से
                                                 
उ. प्रिय निधी जी ये स्त्रियों को होने वाला एक मुख्य रोग है और ये एक जिद्दी रोग है इसकी आपको धीरज से चिकित्सा करनी होगी ।तब ये जड से समाप्त हो जायेगा मै यहाँ इस रोग के कई आयु. नुस्खे लिख रहा हूँ आप विश्वास पूर्वक चिकित्सा कीजिये इस संसार में शायद ही कोई इस तरह का रोग हो जिसकी चिकित्सा नही हो बस आपका विशवास और धैर्य चाहिये निराश मत होईये नीचे लिखी चिकित्सा कर के देखिये आशा है आपको बहुत लाभ होगा ।
१ शकरकन्द और जिमीकन्द समान भाग मे लेके इसको छाया मे सुखा लें फिर इसका बारीक चूर्ण बना लें । ताजे पानी, बकरी के दूध, या फिर अशोक की छाल के क्वाथ मे शहद मिला कर ५ ग्राम रोज लीजिये ये योग सभी प्रकार के प्रदर मे लाभकारी है।
२दारूहल्दी, बबूल क गोंद,शुध्द रसांजन १०-१० ग्राम पीस ले। पीपल की लाख ,नागरमोथा ,सोनागेरू ५-५ ग्राम और २० ग्राम मिश्री सभी को अच्छी तरह कूट लें अब सुबह शाम २से३ ग्राम ताजे पानी से लें यह सभी तरह के प्रदर रोग दूर करता है।
३ चौलाई की जड ५ग्राम चावल के धोवन के साथ शहद मिला कर लें
४;मोचरस, अनार की कली डाक का गोंद १०-१० ग्राम पठानी लोध समुद्र शोथ ४०-४० ग्राम मिश्री ५० ग्राम सभी को अच्छी तरह से कूट लें और कपडे से छान लें फिर मीठे दूध से १० ग्राम रोज लें।
५वासा स्वरस शहद में मिलाकर लें।
६ गिलोय स्वरस श्हद मे मिलाकर लें।
७;कुशा की जड को चावल के धोवन के साथ पीस कर पियें इससे सभी प्रकार के प्रदर रोग दूर होते हैं ।
८;त्रिफला ,मुलहठी, नागरमोथा लोध काचूर्ण शहद मे मिलाकर लें ये हर प्रकार के प्रदर रोग मे फायदा करता है।
९;बेर का चूर्ण गुड मे मिलाकर रक्त प्रदर मे देने से बहुत फायदा होता है।
१० लाख का चूर्ण गाय के घी मे मिलाकर लेने से रक्त प्रदर मे बहुत फायदा होता है।
११;गूलर का पका हुआ फल ताजे पानी से खायें तो श्वेत प्रदर दूर होता है।
१२ मुल्तानी मिट्टी ३ ग्राम मिश्री ३ ग्राम ताजे पानी के साथ शहद के साथ लें यह श्वेत प्रदर मे बहुत फायदा करता है।
१२;मोचरस का चूर्ण बकरी के दूध के साथ लें ये बहुत से प्रदर रोगों मे फायदा करता है।
१3;कपास की जड का चूर्ण चावल के धोवन मे पीस ले और उसका सेवन करें यह श्वेत प्रदर मे लाभकारी है
यदि कोई भी शंका या परेशानी हो तो आप सीधे मुझसे ई-मेल (aayushved@gmail.com) या मोबाइल नंबर 09224359159 पर संपर्क करें।
   
मानसिक शक्तियों के अनुभूत प्रयोग ,जीवन में मन की शक्तियों का इस्तेमाल हमें जरूर करना चाहिये कैसे ? जानने के लिये देखिये मेरी लिखी दूसरी वेबसाईट बस इस लिंक पर click करें ।     www.mindhypnotism.com   

सोमवार, सितंबर 02, 2013

मेरे गाल धसे हुए है, बहुत ही दुबला पतला हूं

नमस्‍ते सर

मेरा नाम परमेश्‍वर है। मेरी उम्र 23 साल है वजन 42 किलो व लम्‍बाई 5 फुट है। मेरी समस्‍या है कि मै बहुत ही दुबला पतला हु। मै 10 से 12 घंटे कम्‍प्‍यूटर पर काम करता हूं। मै पहले कभी हस्‍तमैथुन कर लेता था। क्‍या इसकी वजह से दुबलापन है या कोई और वजह से है। कृपया इसका उपचार बताये जिससे कि मेरा शरीर हष्‍ट पुष्‍ट और मोटा हो जाय। मेरे गाल धसे हुए है। कृपया उस दवा का नाम बताये जिससे मै मोटा हो सकता हू। और वह दवा कब तक लेना और कैसे लेना है। और किस कम्‍पनी का लेना है। कृपया ई-मेल करे सर मै इसके लिए आपका हमेशा आभारी रहुंगा।         
                                           अमित शर्मा आयु ३० साल बीकानेर
                                               नमस्‍ते सर
                                               
                                                            



प्रिय परमेश्वर जी, आप निम्न दवाएं नियम पूर्वक तीन माह तक लीजिये और खूब काम करिये कोई परेशानी नहीं होगी साथ ही आपकी चाहत के अनुसार आपके पिचके गाल भी भर जाएंगे और वजन बढ़ कर शरीर सुंदर लगने लगेगा-

१. अश्वगंधा चूर्ण एक ग्राम + विधारा चूर्ण एक ग्राम इस मिश्रण को सुबह शाम शहद के साथ चाट कर ऊपर से अश्वगंधारिष्ट दो चम्मच पी लिया करिये।

२. लशुनादि वटी एक गोली + आरोग्यवर्धिनी वटी एक गोली दिन में दो बार गर्म पानी से लीजिये।

३. लौह भस्म(शतपुटी) १२५ मिग्रा. शहद के साथ दिन में दो बार लीजिये।

औषधियां खाली पेट न लें।
.४ धातु वर्धक चूर्ण एक चम्मच शाम को लें ।

५. अश्वगंधा तेल १० ग्राम + मालकांगनी तेल १० ग्राम + श्रीगोपाल तेल १० ग्राम + लौंग का तेल २ ग्राम + निर्गुण्डी का तेल १० ग्राम इन सब को मिला कर इसमें केशर १ ग्राम + जायफल २ ग्राम + दालचीनी २ ग्राम । इन सबको कस कर घुटाई कर लें तो क्रीम की तरह बन जाएगा। इसे किसी मजबूत ढक्कन की काँच या प्लास्टिक की चौड़े मुँह की शीशी में रख लीजिये। इसे नहाने के बाद अंग सुखा कर भली प्रकार हल्के हाथ से मालिश करते हुए अंग में जाने दें। लगभग दस मिनट में यह क्रीम लिंग में अवशोषित हो जाएगी। इस प्रकार यदि दिन में समय मिले तो दो बार क्रीम लगायें,  यदि कोई भी शंका या परेशानी हो तो आप सीधे मुझसे ई-मेल (aayushved@gmail.com) या मोबाइल नंबर 09224359159 पर संपर्क करें।


मानसिक शक्तियों के अनुभूत प्रयोग ,जीवन में मन की शक्तियों का इस्तेमाल हमें जरूर करना चाहिये कैसे ? जानने के लिये देखिये मेरी लिखी दूसरी वेबसाईट बस इस लिंक पर click करें ।  www.mindhypnotism.com